मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। (The prayers raised from the heart are definitely fulfilled)

Published by indertanwar397 on

 



वास्तव में कठिन परिस्थितियां हमारे लिए एक नए अवसर के समान है

मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। प्रार्थना का अर्थ केवल ईश्वर से की गई मांग ही नहीं है बल्कि हम सब अपनी महत्वकांक्षाओं को पूरा करने में जो समय लगाते है, जिस उत्साह से हम कोशिश करते हैं, कामयाब होने के लिए हम कैसा व्यवहार और दृष्टिकोण अपनाया करते हैं वे सब प्रार्थनाएं है। प्रार्थनाएं ज्यादातर सकारात्मक होती है। एक बीज अपने आप को पूरा न्यौछावर करके ही एक शानदार, अद्भुत वृक्ष में तब्दील हो पाता हैं, एक पत्थर अपने आप को पूरा दांव पर लगा कर, अपने प्राणों की आहुति देकर, रगड़ खाकर, छेनी हथौड़ी की चोट सहन करके ही एक शानदार मूर्ति बनती हैं। कामयाब होने का यही शाश्वत नियम है, अपने व्यक्तिगत को निखारने का यही नियम है। हमें कठिनाइयों में खुद को और ज्यादा बेहतर बनाने की कोशिश करनी होगी। हमें विपरीत परिस्थितियों का शुक्रगुजार होना चाहिए। वास्तव में कठिन परिस्थितियां हमारे लिए एक नए अवसर के समान है जो हमें अपनी क्षमताओं से अवगत करवाती हैं। इसके अलावा कोई यंत्र तो अभी तक बना नहीं है जो हमारी क्षमताओं की गुणवत्ता और मात्रा को जांच सकें। प्रार्थनाएं हम सब के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं।

इसे भी 👉 पढ़ें :-


जिंदगी में खुशियां कहां पाऊं।


चलो एक बार फिर से कोशिश करते हैं



मूल्यवान कैसे बनें


चैम्पियन की तरह व्यवहार करना होगा


हमारे भाव


ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा


समय हाथ से निकल जा रहा है।



उत्साह


जिम्मेदारी

सफलता प्राप्ति में संस्कारों का महत्व


अच्छे कार्यों की सराहना करना सीखने की जरूरत है।

मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। कामयाब होना चाहते है और मन में विचार बार बार असफल होने के आते हैं। सफलता चाहते है तो विचार और भावनाएं भी सफलता हासिल करने की ही होनी चाहिए। इस दुविधा में हम अपनी क्षमताओं और शक्तियों की अनदेखी कर रहे हैं। कोई व्यक्ति चाहे कितना भी बुरा क्यों न हो, उसमें कोई न कोई खूबी जरूर होती हैं। अच्छे कार्यों की सराहना करना सीखने की जरूरत है। कई बार हम सराहना करना भूल जाते है या फिर अच्छे कार्यों के लिए कुछ भी प्रतिक्रियाएं नहीं देते। इस तरह का व्यवहार हमें खुद को इम्प्रूव करने में बाधा उत्पन्न कर सकता हैं। इसकी अपेक्षा छोटी छोटी बातों और कामों के लिए हमें तारिफ करना आना चाहिए। इससे हम सामने वाले व्यक्ति को अपने प्रति अच्छा सोचने पर बाध्य देते हैं। और वो हमारे विषय में अच्छा सोचने लगता है। और यही प्रार्थना हमें चाहिए होती है। इससे हमें अपने आप को और ज्यादा बेहतर बनाने में, और ज्यादा विकसित करने में मदद मिलती हैं। ईगो और अक्खड़ पन हमेशा ही हमें पीछे धकेलने में सहयोग करते हैं। इन सब बातों को छोटे-छोटे प्रयासों के द्वारा अपने व्यवहार से बाहर निकलने की आवश्यकता है। मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं।

इसे भी 👉 पढ़ें:


धैर्य रूपी अद्भुत क्षमता को कैसे विकसित करें

खुद पर काम करें


 विकल्प 


प्रार्थना की शक्ति


समय ही धन है 


अपने प्रतिदिन के कार्यों की एक लिस्ट बनाएं और निरिक्षण करें। 

मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। समय एक महत्वपूर्ण और जरूरी चीजों में से एक है जो हमारे वर्तमान और भविष्य के निर्माण में सहायक होता हैं। अगर हम किसी काम को करना चाहते है तो हम सब के पास पर्याप्त समय होता है। हम चाहे कितने भी बहाने बनाएं कि समय नहीं मिलता, बहुत बिजी हूं, लेकिन हम समय निकालना चाहे तो हर हाल में समय निकाल ही लेते हैं। अपने प्रतिदिन के कार्यों की एक लिस्ट बनाएं और निरिक्षण करें कि आज़ हमने कौन कौन से ऐसे काम किए हैं जो हमें हमारे उद्देश्य को पूरा करने में सहायक होंगे। और कितने ऐसे काम किए जिनका हमारे उद्देश्यों से कोई ताल्लुक नहीं था। 5 या 10% को छोड़कर हम अपने ज्यादातर समय को अनुपयोगी कार्यों और वस्तुओं पर लगाते हैं। जिसका सदुपयोग किया जा सकता हैं। हमें अपने समय को उन्हीं कामों में लगाने की आवश्यकता है जिनसे हमें अपने आप को बेहतर बनाने में मदद मिलती हो। अगर हम टीवी देखने में, व्यर्थ वार्तालाप में और बुरी संगत में अपने समय को लगाते हैं तो हमें कभी भी कुछ भी हासिल नहीं होगा। समय एक बहुमूल्य चीज है। इसके एक एक क्षण का इस्तेमाल बेहतर से बेहतर ढंग से किए जाने की आवश्यकता है। वैसे तो सफलता  मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं।

इसे भी 👉 पढ़ें:-


जीवन जीने के अनूठे तरीके


खुद की मदद कैसे करें


शुभ और पवित्र विचार ही हमारे लिए प्रार्थना का काम करते हैं।

मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। शुभ और शुद्ध भावनाओं से हम वो सब हासिल कर सकते है जिनको प्राप्त करने की हम इच्छा रखते हैं। ये शुभ और पवित्र विचार ही हमारे लिए प्रार्थना का काम करते हैं। जीवन बहुत खुबसूरत है इसको और ज्यादा सुंदर बनाएं जाने की आवश्यकता है। हम सब बहुत समझदार है इन बातों से भली-भांति परिचित है। लेकिन व्यवहार में परिवर्तन करने से चूक जाते हैं। बार बार उन विषयों के बारे में चिंतन करना, उन विषयों की चर्चा करना, या उन लोगों के विषय में बात करना जो हमें पसंद नहीं है, हमारे उत्थान में बहुत बड़ी बाधा है। हम अपने आप के विषय में बहुत कम बोलते है। कमियां हर इंसान में होती है अच्छी बातें भी प्रत्येक व्यक्ति में होती है। फिर भी हम केवल कमियों को ही फोकस करते हैं। हमें दूसरों की खूबियों को देखकर सीखना होगा। खुद का बार बार आंकलन करने की आवश्यकता है, पूरे जोश और जुनून के साथ प्रतिकूल परिस्थितियों से टकरा जाएं। विश्वास कीजिए हमारी कमियां अपने आप दूर होती जाएगी और हमारा आत्मविश्वास बढ़ता जाएगा। बुरे विचारों और भावनाओं से हमारा लक्ष्य प्रभावित ना हो और हम ज्यादा दक्षता के साथ काम कर सकें। इस तरह के महान परिवर्तन की आवश्यकता है। 50% कामयाबी तो हमारे शुद्ध आचरण और व्यवहार से ही मिल जाती हैं। बाकी हमारी मेहनत से हमें हासिल करनी होगी। मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं।

इसे👉 पढ़ें :-

निवेश कहा करें

हमारा व्यक्तित्व



डायमंड्स



हमें संतुलन बनाना सीखना होगा।


मन से उठी प्रार्थनाएं जरूर पूरी होती हैं। हम अक्सर उन्हीं कामों को करना पसंद करते है जो कम मेहनत के और आराम दायक होते है। हमें संतुलन बनाना सीखना होगा। जितना हम मेहनत से बचने की कोशिश करेंगे उतना ही हम पिछड़ते चले जाएंगे। कर्म ही प्रधान है इस बात को समझना ही होगा।  भगवत गीता में भी लिखा है कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन। इसका अर्थ है कि हमारा अधिकार केवल कर्म करने पर है फल की इच्छा किए बिना कर्म करना ही पड़ेगा। सफलता के लिए कोई दूसरा विकल्प नहीं है। सुंदर विचारों और भावनाओं से अपने साथ साथ दूसरों के जीवन को भी बेहतर बनाने में मदद मिलती हैं। अपने निराशा से भरें विचारों को सुंदर और खुशनुमा विचारों के साथ बदलने की आवश्यकता है। ऐसा निरंतर अभ्यास के द्वारा किया जा सकता है। अपने समय को सुंदर विचार और भावनाओं को बढ़ाने में निवेश किए जाने की आवश्यकता है। यह एक अद्भुत और शानदार जीवन के लिए एक छोटी सी क़ीमत होगी। अच्छी सोच ही हमारे उज्जवल भविष्य का निर्धारण करती हैं।

जिस भी प्रेरणादायक विषय पर आप पढना चाहते है आप हमें बताएं। हम आपकी पसंद के विषय पर जरूर आर्टिकल लिखेंगे।

टिप्पणियां अवश्य दें।

धन्यवाद 🙏



0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *