दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। (The mindset of changing the world has to be changed.)

Published by indertanwar397 on

सोचना बहुत महत्वपूर्ण कार्य है, इसको ग़ैर ज़रूरी न समझे।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। दुनिया में बदलाव लाया जा सकता है लेकिन दुनिया को बदलने की सोच रख कर नहीं बल्कि खुद को बदल कर हम दूसरों में परिवर्तन की भावना को बढ़ावा दे सकते हैं। वस्तुत: हमें मुश्किल काम करना अच्छा नहीं लगता। और दुनिया के महानतम कार्य मुश्किलों के रेगिस्तान को पार करने के बाद ही संभव हुए हैं। दुनिया में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं हुआ जिसने मुश्किलों, संघर्षों के बिना ही सफलता हासिल की हो। हालाँकि, हर व्यक्ति को अपने जीवन में जीवित रहने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। कभी खाने के लिए, कभी आगे बढ़ने के लिए। सोचना बहुत महत्वपूर्ण कार्य है, इसको ग़ैर ज़रूरी समझना समझदारी नहीं होगी। वस्तुतः बहुत संभलकर बोलने और सोचने की क्षमता को बढ़ाने की आवश्यकता है। 

इसे भी  पढ़ें :-

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं।

जिंदगी में खुशियां कहां पाऊं।

मूल्यवान कैसे बनें।

चैम्पियन की तरह व्यवहार करना होगा

हमारे भाव

ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा

समय हाथ से निकल जा रहा है।

उत्साह

जिम्मेदारी

सफलता प्राप्ति में संस्कारों का महत्त्व

असफलताओं को सफलता में बदलने वाले मुख्य तरीके

विपरीत परिस्थितियां हमारे धैर्य की क्षमताओं को और ज्यादा विकसित करने हेतु आती है।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। हमारी कोशिश यही होनी चाहिए कि फ़ालतू की बातों और गैर जरूरी कार्यों में हमारी एक प्रतिशत ऊर्जा भी न खर्च हो पाएं। जो काम हमें सफलता की दिशा से भटकाने में अहम भूमिका निभाते हैं उन्हें अपनी जिंदगी से तत्काल प्रभाव से बाहर निकलना होगा। वास्तव में विपरीत परिस्थितियां हमारे धैर्य की क्षमताओं को और ज्यादा विकसित करने हेतु आती है। मुश्किल समय को सहजता और विश्वास के साथ व्यतीत करने की आवश्यकता है। उदासीन रहना, अपना दुःख दूसरों को सुनाते फिरना, शिकायतें करना सफल व्यक्तित्व की पहचान नहीं है। सफल होने वाले व्यक्ति किसी से कोई शिकायत नहीं करते, किसी की निंदा नहीं करते क्योंकि उनको पता है कि मुश्किलों के बाद सफलता का सुनहरा अवसर जरूर आएगा।

इसे भी  पढ़ें:-

मानसिक बदलाव ही सफलता का मूलमंत्र है।

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

खुद की मदद कैसे करें।

कोशिश करने से पीछे न हटें।

असंभव कुछ भी नहीं

ऊर्जा का स्तर

सामर्थ्य

आशावादी दृष्टिकोण

समय ही धन है

स्वस्थ जीवन जीने के तरीके।

स्वमान

परिवर्तनों से घबराने की बजाय उनका आदर करना होगा

सफलता प्राप्ति में बाधाएं ही हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती हैं।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। खुद को बदलना बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है बस छोटे छोटे प्रयास करने होंगे। हालांकि, हम सब अपने जीवन में हमेशा प्रयत्नशील रहते हैं। अपना एक सिद्धांत बनाने की आवश्यकता है ताकि हम वो कर सकें जो वास्तव में हमारे लिए जरूरी है। कोई भी काम करने से पूर्व कैसे करना है, उसका क्या लाभ होगा, समाज के लिए कितना फायदेमंद होगा? इन महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखते हुए प्रयास करना होगा। इससे बहुत सारी व्यर्थ की बाधाओं से छुटकारा मिल जाता है। चूंकि, सफलता प्राप्ति में बाधाएं ही हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती हैं। वस्तुतः इस बात को समझना होगा और बाधाओं से घबराएं बिना निरंतर प्रयास करते रहना होगा।

इसे  भी पढ़ें :-

खुशी हमारे लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

विचार ही सबसे बड़ी पूंजी है।

निवेश कहा करें।

हमारा व्यक्तित्व

चलो एक बार फिर से कोशिश करते हैं।

जीवन के मुख्य गुण क्या हैं?

आनंदमय जीवन

सच्ची खुशी

सरल जीवन

सफल आदतें

हमेशा खुश कैसे रहें

डायमंड्स

जब हम खुश होते है तो हम अच्छा परफॉर्म कर पाते हैं।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। अपने मन में हमेशा सुंदर, उमंग और उत्साह से भरपूर विचारों को लाने की कोशिश करनी होगी ताकि हम अपने आप को डिग्रेड होने से बचा सकें। बुरे विचारों और उदासीनता को आनंद और उत्साहजनक विचारों के साथ बदला जा सकता है। क्योंकि उत्साह से हीन व्यक्ति मृत के समान माना जाता है। हालाँकि दुःख और प्रतिकूल परिस्थितियों में दुःखी होने की अपेक्षा दुगने उत्साह और जोश के साथ काम करने की आवश्यकता है। ताकि हम अपनी ऊर्जा को व्यर्थ गंवाने से बचा सकें। महान दार्शनिक इमर्सन ने भी कहा है कि आनंद और उल्लास से भरा जीवन ही हमारी मानसिक उन्नति को दर्शाता है। वस्तुतः जब हम खुश होते है तो हम अच्छा परफॉर्म कर पाते हैं। अपनी क्षमताओं के सम्पूर्ण उपयोग के लिए हमें उत्साह और उमंग से भरपूर होकर काम करते रहना होगा। 

इसे भी  पढ़ें:

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

धैर्य रूपी अद्भुत क्षमता को कैसे विकसित करें

स्वस्थ मन

पहला कदम

महत्वकांक्षा

कृतज्ञता

अपने आत्मविश्वास कौशल पर विश्वास 

सही दिशा

 विकल्प हमारे पास ही है।

प्रार्थना की शक्ति

समय ही धन है 

हमारे विचार ही हमारे भविष्य का निर्धारण करते हैं। 

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। इंसान गलतियों का पुतला है और गलतियां तभी होंगी जब हम कार्य करेंगे। अतः गलतियों से घबराने की आवश्यकता नहीं है बल्कि गलतियों से सीख लेकर निरंतर प्रयास करते रहने की आवश्यकता है। हालांकि, गलती करना कोई नहीं चाहता फिर भी कोशिश करनी चाहिए कि एक गलती को दोहराया न जाए। हमारे अंदर एक अद्भुत और प्रतिभाशाली युवा छिपा हुआ है। असफलता और निराशा के समय इस छिपे इंसान को बाहर निकालने की आवश्यकता होती है। दरअसल हमारे विचार ही हमारे भविष्य का निर्धारण करते हैं। दूसरों को प्रभावित करने की अनावश्यक बातों पर कम से कम ध्यान देने की आवश्यकता है। सामान्यतया दूसरों की सफलता पर खुश होना और खुद को ज्यादा जोश से भरपूर महसूस करना एक सकारात्मक कदम साबित होगा। 

इसे भी पढ़ें:-

निंरतर प्रयास से बेहतर कैसे बनें।

आदतों में सुधार।

स्वीकार करना सीखना होगा।

असंभव कुछ भी नहीं।

सीखने को बहुत कुछ है सिर्फ सीखने की भावना को अपने व्यवहार में विकसित करने की।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। हम अपनी आदतों के कारण कई बार असफलता और मुश्किलों से घिर जाते हैं। आदतें हमें अपने लक्ष्य तक पहुंचने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। अच्छी और बुरी आदतों को पहचानने में हमें निर्णय लेना होगा। सफलता प्राप्ति के लिए सफल लोगों जैसी जीवनशैली को अपनाने की जरूरत है। सीखने को बहुत कुछ है इस इस जीवन में, जरूरत है तो सिर्फ सीखने की भावना को अपने व्यवहार में विकसित करने की। हालांकि, हम सब अपनी आदतों को बदलने का प्रयास जरूर करते हैं। लेकिन इसमें कामयाब होने की संभावना बहुत कम होती है क्योंकि जल्द परिणाम प्राप्त करने की ललक में हम एक दो दिन या फिर एक दो हफ्ते प्रयास करके छोड़ देते हैं। 

हमें भी अपने तरीके से कुछ अद्भुत करने का प्रयास करना होगा।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। सच्ची खुशी भौतिक साधनों में नहीं है, सच्ची खुशी तो दूसरों को देने में है फिर चाहे वो धन दौलत हो या सहयोग करने की भावना। हर पल का आनंद लेते हुए जीवन को सुखमय और सरल तरीके से जीया जा सकता है। और दूसरों के लिए एक उदाहरण पेश किया जा सकता है। बहुत सारे उदाहरण है जिन्होंने केवल एक वस्तु पर फोकस करके पूरी दुनिया को बहुत शानदार रास्ता दिखाया है। हमें भी अपने तरीके से कुछ अद्भुत करने का प्रयास करना होगा। जिससे न केवल हमारे जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन हो बल्कि अपने आस पास के वातावरण में भी बदलाव की संभावना बन जाएं। परिस्थितियां कैसी भी क्यों न हो हमें अपने विचारों और कार्यों पर अटल अडिग रहना होगा केवल तभी हम कुछ खास कर पाएंगे।

दुनिया को बदलने की सोच को बदलना होगा। हम सब बहुत खास है। दूसरों को हमेशा ग़लत समझना बिल्कुल भी उचित नहीं होगा क्योंकि हर इंसान में गुण और अवगुण दोनों ही होते हैं। इसके अलावा दूसरों को जिम्मेदार ठहराने की अपेक्षा उनके सही कार्यों के लिए हमेशा तारीफ करना बेहतर होता हैं। गलतियों को स्वीकार करके उनमें सुधार किया जा सकता हैं। परिणामस्वरूप हमारे आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। वस्तुत: सही दिशा में हमारा एक एक कदम कामयाबी की राह में मील का पत्थर साबित होता हैं। 

जिस भी प्रेरणादायक विषय पर आप पढना चाहते है आप हमें बताएं। हम आपकी पसंद के विषय पर जरूर आर्टिकल लिखेंगे।

टिप्पणियां अवश्य दें।

धन्यवाद 🙏


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *