सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। (It is only through cooperation that we get success in life.)

Published by indertanwar397 on

हम योग्य और क्षमतावान है फिर किसी से मांगने की क्या आवश्यकता है?

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। भौतिक वस्तुओं की अपेक्षा सही दिशा में आगे बढ़ने का मार्गदर्शन की उम्मीद रखना ज्यादा बेहतर साबित होगी। हम सब एक दूसरे के सहयोग ही वो सब हासिल कर पाते है जिसकी हम कल्पना करते हैं। सही मायनों में सहयोग का अर्थ होता है किसी को मानसिक रूप से मजबूत बनाने में सहायता करने से है न कि सफलता प्राप्ति हेतु प्रेरित करना, उचित मार्गदर्शन देना न कि किसी की धन दौलत या किसी वस्तु से मदद करना। हमें खुद को मोटिवेट करना होगा कि कभी भी किसी से भौतिक वस्तुओं के लिए प्रार्थना नहीं करूंगा। हम खुद बहुत योग्य और क्षमतावान है फिर किसी से मांगने की क्या आवश्यकता है? वास्तव में हमें धन की अपेक्षा मानसिक रूप से और ज्यादा मजबूत होने की आवश्यकता है।

इसे भी 👉 पढ़ें :-

जिंदगी में खुशियां कहां पाऊं।

चलो एक बार फिर से कोशिश करते है

विश्व के महानतम लोगों से सीखना होगा
ऋण तो चुकाना ही होगा
श्रेय देना सीखना होगा

मूल्यवान कैसे बनें

चैम्पियन की तरह व्यवहार करना होगा

हमारे भाव

ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा

समय हाथ से निकल जा रहा है।

उत्साह

जिम्मेदारी

सफलता प्राप्ति में संस्कारों का महत्व

अपने अंदर मौजूद योग्यताओं का सही दिशा में प्रयोग कैसे करें?

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। ईश्वर से भी अगर कुछ मांगना पड़े तो सही मार्गदर्शन मांगना ही श्रेष्ठकर होगा। सही राह की मांग अपने अवसरों के अनुरूप योग्यता हासिल करने में सहायक हो सकती है। जिस प्रकार शेर अपने दांतों से शिकार को जाने नहीं देता, जिस तरह बाज अपने पंजों का इस्तेमाल बेहतर तरीके से करता है ठीक उसी प्रकार हम अपने अंदर मौजूद योग्यताओं का सही दिशा में प्रयोग कैसे करें? इसका ज्ञान होना बहुत जरूरी हैं। कभी कभी यह ज्ञान हमें खुद ही हो जाता है और कभी दूसरों के सहयोग से होता है। थोड़ी तकलीफ़ या मुश्किल आते ही हम दूसरों की तरफ देखना शुरू कर देते हैं कि कोई आएगा और हमारी मुश्किलों को ठीक कर देगा। इसकी अपेक्षा हमें खुद कोशिश करनी होगी।

इसे भी 👉 पढ़ें:

धैर्य रूपी अद्भुत क्षमता को कैसे विकसित करें

खुद पर काम करें
महत्वकांक्षा
पहला कदमस्वस्थ मन

अपने आत्मविश्वास कौशल पर विश्वास 

सही दिशा

 विकल्प 

प्रार्थना की शक्ति

समय ही धन है 

दूसरों के प्रति सहयोग की भावना रखना ही सहयोग प्राप्ति का मार्ग है। 

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। हमारे श्रेष्ठ प्रदर्शन का श्रेय, हमारी कामयाबी का क्रेडिट केवल हमें खुद को ही नहीं जाता बल्कि हमारे माता-पिता, दोस्तों और उन सब लोगों को जाता है जिन्होंने हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया, हमें सुविधाएं देकर खुद तकलीफों का सामना किया। विपरीत परिस्थितियों में धैर्य रखने की कला विकसित करने में हमारी मदद की। हमारे पास अदम्य साहस और उत्सुकता है जिसका उपयोग हम जीवन में आगे बढ़ने के लिए हर क्षेत्र में करते हैं। और ये सब हमने अपने परिवार और समाज से ही मिलता हैं। अतः हमें अपने समाज और परिवार के प्रति सम्मान की भावना रखने की आवश्यकता है। जिसके परिणामस्वरूप हमारे मन में अच्छे आचार विचार का उदय होता हैं। सहयोग प्राप्त करने के लिए हमें खुद भी दूसरों के प्रति सहयोग की भावना रखनी होगी। 

इसे भी 👉 पढ़ें:-

जीवन जीने के अनूठे तरीके

खुद की मदद कैसे करें

कोशिश करने से पीछे न हटें

असंभव कुछ भी नहीं

ऊर्जा का स्तर

सामर्थ्य

आशावादी दृष्टिकोण

समय ही धन है

स्वस्थ जीवन जीने के तरीके 

स्वमान

निरंतरता के नियम को अपनाने की जरूरत है।

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। हमें खुद भी बेहतर बनने का प्रयास करना होगा और दूसरों को भी आगे बढ़ने में मदद करनी चाहिए। कभी कभी कोशिश करना या फिर बार बार अपने उद्देश्यों को बदलने की आदत हमें कभी भी कामयाबी नहीं दिला सकती। जिस प्रकार एक नदी निरंतर अपने लक्ष्य की ओर बढ़ती रहती है ठीक उसी की भांति हमें भी निरंतरता के नियम को अपनाने की जरूरत है। हमें अपने क्षमताओं को निखारने रहना होगा ताकि हम खुद को पिछड़ने से बचा सकें। इस दुनियां में हर छोटा बड़ा जीव नियमों का पालन करता है। आलस्य नामक बिमारी हम इंसानों में ही पायी जाती हैं। इसके प्रति जागरूक होने की आवश्यकता है।

इसे👉 पढ़ें :-

निवेश कहा करें

हमारा व्यक्तित्व

स्वस्थ सोच
छोटे प्रयास बड़े  परिणाम

श्रेय देना सीखना होगा

आनंदमय जीवन

सच्ची खुशी

सरल जीवन

सफल आदतें

हमेशा खुश कैसे रहें

डायमंड्स

वास्तविक सुख हमारी मनोदशा पर निर्भर करता हैं न कि भौतिक वस्तुओं पर।

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। प्रत्येक क्षण का आनन्द लिया जा सकता हैं। बस जरूरत है अपने नजरिए में थोड़ा सा बदलाव करने की। अपने जीवन को घोर संघर्ष और कठोरता से गुजरने की कोई आवश्यकता नहीं है। संतुलन बनाया जा सकता हैं। मेहनत करते हुए परिवार को समय देकर हम खुद को मोटिवेट कर सकते है, संघर्ष के दिनों में किसी जरूरतमंद की मदद करके हम अपने आत्मविश्वास को और ज्यादा बेहतर बना सकते हैं। पेड़ लगाकर अपने आस पास के वातावरण को शुद्ध रखने में अपना योगदान दें सकते हैं। वास्तविक सुख हमारी मनोदशा पर निर्भर करता हैं न कि भौतिक वस्तुओं पर। इस बात को समझने की जरूरत है। विपरीत परिस्थितियों में भी शांत और सौम्यता के साथ रहकर अपने मार्ग को आसान बना सकते हैं। 

कुछ कर गुजरने वालों के लिए दुनिया में किसी चीज की कोई कमी नहीं है।

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। पूरी प्रकृति हमें सहयोग कर रही है, सूर्य धूप देकर, धरती अनाज देकर, पेड़-पौधे शुद्ध आक्सीजन देकर हमें जीवन को सुखमय और सरल तरीके से जीने में सहयोग करते हैं। एक चींटी का भी हमारे जीवन में बड़ा सहयोग होता है। चींटियां हमें हर परिस्थिति में लगातार काम करते रहने के लिए प्रेरित करती हैं, हमें जीवन का बहुत महत्वपूर्ण सबक सीखाती है। कुछ कर गुजरने वालों के लिए न तो काम की कमी है और न ही धन दौलत की। आलसी और काम न करने वालों के लिए धरती पर हमेशा काम की कमी रहेगी। साथ ही ऐसे लोग की आर्थिक स्थिति कभी भी अच्छी नहीं होती। हर इंसान में कुछ न कुछ खास बात होती हैं। इस महत्वपूर्ण गुण का पूर्ण उपयोग किया जा सकता है।

हमें खुद को कमजोर समझना छोड़ना होगा क्योंकि हम ईश्वर की अद्भुत रचना है।

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। चारों तरफ से सहयोग मिल रहा है फिर भी हम न जाने किसका इंतज़ार कर रहे हैं, अच्छी आदतों और संस्कारों को इग्नोर करके लगातार अपने आप को कमजोर, नकारा बनाने में लगे हुए हैं। सब-कुछ जानकर भी अनजान बने रहना समझदारी नहीं है। एक नए सिरे से शुरुआत करने की आवश्यकता है। हमें खुद को कमजोर समझना छोड़ना होगा क्योंकि हम ईश्वर की अद्भुत रचना है और परमात्मा की रचना में कोई कमी कैसे हो सकती है। जीवन वरदान स्वरूप है हमें इसको कम नहीं आंकना चाहिए और बेहतर कार्य करके अपनी क्षमताओं का उपयोग कर सकते हैं। अपने मूल्यों को पहचान कर सफलता हासिल की जा सकती हैं। सकारात्मक विचारों वाले लोगों के जीवन में सफल होने की संभावना सामान्य की तुलना में अधिक होती हैं।

हमें वही मिलेगा जो हम दूसरों को देते हैं।

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं। अच्छी बातें सीखना हमेशा फायदेमंद होता हैं। अच्छी आदतें आगे बढ़ने में हमारी सहायता करती हैं। अपने कम्फर्ट ज़ोन को छोड़कर अपने सीमित समय का सदुपयोग करने की आवश्यकता है। प्रकृति का नियम है हमें वही मिलेगा जो हम दूसरों को देते हैं। इसलिए अपने बेहतर भविष्य के लिए केवल अच्छी और सकारात्मक चीजें ही दूसरों को दें। 

जिस भी प्रेरणादायक विषय पर आप पढना चाहते है आप हमें बताएं। हम आपकी पसंद के विषय पर जरूर आर्टिकल लिखेंगे।

टिप्पणियां अवश्य दें।

धन्यवाद 🙏