इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। (The best companion of man is his health.)

Published by indertanwar397 on

हमारा शरीर मेहनत के आधार पर ही स्वस्थ रहता हैं।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। शारीरिक स्वास्थ्य के साथ साथ मानसिक रूप से भी मजबूत होना हमारे अपने हाथ में ही है। आधुनिकता ने हमें मजबूर और असहाय बना दिया है। हालांकि, हम सब एक स्वस्थ जीवन व्यतीत करना चाहते हैं लेकिन जीवनशैली आरामदायक होनी चाहिए। हमें कम से कम काम करना पड़े और ज्यादा से ज्यादा आराम। कई बार तो हमें‌ पता ही नहीं चलता कि हम खुद को कमजोर और लाचार बना रहे हैं। सामान्यतः हम सब आसानी से होने वाले काम करना ज्यादा पसंद करते हैं। वास्तव‌ में हम सब यही पर चूक कर जाते हैं। हमारा शरीर मेहनत के आधार पर ही स्वस्थ रहता हैं। जितना हम शारीरिक मेहनत करेंगे उतना ही हम खुद को स्वस्थ रख सकेंगे। ज्यों ज्यों मेहनत कम होती जा रही है बिमारियां बढ़ती जा है। इस बात को जितना जल्दी समझेंगे उतना ही शानदार जीवन जी सकेंगे। 

इसे भी  पढ़ें :-

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं।

जिंदगी में खुशियां कहां पाऊं।

मूल्यवान कैसे बनें।

चैम्पियन की तरह व्यवहार करना होगा

हमारे भाव

ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा

समय हाथ से निकल जा रहा है।

उत्साह

जिम्मेदारी

सफलता प्राप्ति में संस्कारों का महत्त्व

असफलताओं को सफलता में बदलने वाले मुख्य तरीके

नियमित व्यायाम हमें स्वास्थ्य लाभ के साथ साथ मानसिक रूप से मजबूती भी प्रदान करता है।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। सामान्यतः एक स्वस्थ व्यक्ति ही सभी वस्तुओं का आनंद उठा सकता हैं। अपने आलस्य को त्यागकर सुबह कुछ देर व्यायाम किया जा सकता हैं।  हालांकि, आलस्य को त्यागना इतना मुश्किल नहीं होता लेकिन दृड संकल्प और धैर्य से कोई भी मुश्किल कार्य आसानी से किया जा सकता है। चूंकि, स्वास्थ्य के लिए हम अपनी ओर से बहुत कोशिश करते है लेकिन थोड़े प्रयास के बाद ही हिम्मत हार कर भी बैठ जाते हैं। नियमित व्यायाम हमें स्वास्थ्य लाभ के साथ साथ मानसिक रूप से मजबूती भी प्रदान करता है। दरअसल, स्वास्थ्य संबंधी आदतों को सुधारना आज़ की प्रमुख जरूरत बन गई है। क्या हमें खुद इस बात पर चिंतन करने की आवश्यकता नहीं है कि बढ़ती बिमारियों से बचाव के लिए हमें खुद को स्वस्थ रखना चाहिए।

इसे भी  पढ़ें:-

मानसिक बदलाव ही सफलता का मूलमंत्र है।

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

खुद की मदद कैसे करें।

कोशिश करने से पीछे न हटें।

असंभव कुछ भी नहीं

ऊर्जा का स्तर

सामर्थ्य

आशावादी दृष्टिकोण

समय ही धन है

स्वस्थ जीवन जीने के तरीके।

स्वमान

परिवर्तनों से घबराने की बजाय उनका आदर करना होगा

दूसरों को देखकर सबक लेना एक स्मार्ट विकल्प है।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। दूसरी चीजों की तरह स्वास्थ्य के लिए भी धैर्य रूपी बहुमूल्य आभूषण की आवश्यकता होती है। ऐसा नहीं होता कि दो चार दिन व्यायाम करने से ही हम स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर पाएंगे। प्रत्येक वस्तु को समय पर करने से ही पूरा लाभ मिलता है। समस्याओं के आने से पहले से ही उनके समाधान का चिंतन मनन करना समझदारी कहलाता है। पहले समस्याओं का इंतजार करना और फिर समाधान खोजने का बिल्कुल भी औचित्य नहीं होता। दूसरों को देखकर सबक लेना एक स्मार्ट विकल्प है। जिसका उपयोग करके हम अपने जीवन को सरल और स्वाभाविक बना सकते हैं। अच्छी सेहत और आदतों पर समय का निवेश करना हमेशा सुखदाई होता हैं। अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही अच्छे विचार स्वाभाविक रूप से आने लगते हैं। संभवत अच्छे विचारों से हमारा व्यक्तित्व और चरित्र दोनों ही मजबूत बनाने में मदद मिलती है।

इसे  भी पढ़ें :-

खुशी हमारे लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

विचार ही सबसे बड़ी पूंजी है।

निवेश कहा करें।

हमारा व्यक्तित्व

चलो एक बार फिर से कोशिश करते हैं।

जीवन के मुख्य गुण क्या हैं?

आनंदमय जीवन

सच्ची खुशी

सरल जीवन

सफल आदतें

हमेशा खुश कैसे रहें

डायमंड्स

वास्तव में बिना मेनटेनेंस के किसी भी वस्तु को लम्बे समय तक नहीं चलाया जा सकता।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। हमारा शरीर एक अति महत्वपूर्ण और कीमती मशीन की भांति है। जिस प्रकार मूल्यवान वस्तुओं की देखभाल और रखरखाव अच्छी तरह से और समय पर किया जाना अनिवार्य होता हैं। ठीक उसी प्रकार हमारे बहुमूल्य शरीर की भी देखभाल करना बहुत जरूरी होती हैं। वास्तव में बिना मेनटेनेंस के किसी भी वस्तु को लम्बे समय तक नहीं चलाया जा सकता। हालांकि, हमारा शरीर हमें समय समय पर संकेत देता रहता है। परंतु हम इस ओर कभी ध्यान नहीं देते। ये भी सही है कि हमारा शरीर खुद को स्वस्थ रखने में सक्षम है। लेकिन इसके लिए कुछ नियमों का कठोरता से पालन करना होगा। जीवन में प्रत्येक कार्य को सक्रियता के साथ करने से भी हमें स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं। जल्दी सोने और जल्दी उठने की आदत को विकसित किया जा सकता है। 

इसे भी  पढ़ें:

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

धैर्य रूपी अद्भुत क्षमता को कैसे विकसित करें

स्वस्थ मन

पहला कदम

महत्वकांक्षा

कृतज्ञता

अपने आत्मविश्वास कौशल पर विश्वास 

सही दिशा

 विकल्प हमारे पास ही है।

प्रार्थना की शक्ति

समय ही धन है 

एक स्वस्थ व्यक्ति ही खुद के लिए और समाज के लिए कुछ बेहतर कर सकता हैं।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। अच्छे विचारों का आचरण के साथ साथ हमारे शारीरिक स्वास्थ्य पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं। जब हम निस्वार्थ भाव से जरूरतमंद लोगों की सहायता करते है तो प्रतिफल में हमें बेशकीमती खुशी मिलती है। और यही खुशी हमें मानसिक शांति के साथ साथ शारीरिक स्वास्थ्य भी प्रदान करती है। एक स्वस्थ व्यक्ति ही खुद के लिए और समाज के लिए कुछ बेहतर कर सकता हैं। बीमार व्यक्ति तो सबको बोझ लगने लगता है। अपने शरीर रूपी ईश्वर की अनुपम रचना का ध्यान रखना एक तरह से भगवान के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने जैसा है। और हमे ईश्वर के प्रति हमेशा सम्मान की भावना रखनी होगी। क्योंकी परमात्मा के सहारे के बगैर हम अपनी महत्वकांक्षाओं को पूरा नहीं कर सकते। खुद भी स्वस्थ रहना और दूसरों को भी अच्छे स्वास्थ्य के महत्व को बताना। 

इसे भी पढ़ें:-

निंरतर प्रयास से बेहतर कैसे बनें।

आदतों में सुधार।

स्वीकार करना सीखना होगा।

असंभव कुछ भी नहीं।

अच्छे स्वास्थ्य के बगैर सफलता का सुख भी फिका लगता है।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। एक स्वस्थ व्यक्ति आत्मविश्वास से भरपूर होता है। और इसमें कोई संदेह नहीं कि आत्मविश्वास से युक्त व्यक्ति विरल और असाधारण होता है। निसंदेह आत्मविश्वास एक ऐसी पूंजी है जिससे उच्च स्तर की सफलता हासिल होती हैं। इसके अलावा आत्मविश्वास से भरपूर व्यक्ति समस्याओं के आने पर बड़े ही धैर्य और साहस के साथ उनका सामना करता है। जहां कांफिडेंस होता है वहां मनुष्य के प्रभाव और समृद्धि में वृद्धि होना स्वाभाविक है। वास्तव में एक स्वस्थ व्यक्ति ही जीवन के हर पड़ाव पर बेहतर प्रदर्शन करने में सक्षम होता है। अच्छे स्वास्थ्य के बगैर सफलता का सुख भी फिका लगता है। क्योंकी स्वास्थ्य ही असली सम्पत्ति है। अच्छे स्वास्थ्य से चिंता, तनाव जैसी बुरी अवस्थाओं से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाता हैं। अन्य चीजों के साथ साथ स्वास्थ्य को भी महत्व देने की आवश्यकता है। 

अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्यायाम के साथ साथ अपने खान-पान का भी पूरा ध्यान रखना होगा।

इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत होती हैं। स्वास्थ्य से हीन व्यक्ति हमेशा दूसरों पर निर्भर रहता हैं। नियमित व्यायाम हमारे फेफड़ों और ह्रदय को मजबूती प्रदान करता है। इसके अतिरिक्त हमारी मांसपेशियों के तनाव और कठोरता को दूर करने में हमारी सहायता करती हैं। जो हमें कई तरह की बिमारियों से बचने में हमारी मदद करता है। अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्यायाम के साथ साथ अपने खान-पान का भी पूरा ध्यान रखना होगा। असली वस्तुओं के महत्व को समझना होगा। हमारा पेट कोई डस्टबिन नहीं है जैसा चाहे, जब चाहे का लिया। खाने के मामले में समय का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। बार बार खाना बिमारियों को आमंत्रित करने का काम करता है। इस शरीर रूपी मशीन को सही तरीके से चलाने के लिए चाबी हमारे हाथ में ही दी गई है।

जिस भी प्रेरणादायक विषय पर आप पढना चाहते है आप हमें बताएं। हम आपकी पसंद के विषय पर जरूर आर्टिकल लिखेंगे।

टिप्पणियां अवश्य दें।

धन्यवाद 🙏