विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। (It is through thoughts that we can adopt both good and bad way of life.)

Published by indertanwar397 on

अवसर और समय सबको समान रूप से उपलब्ध हैं।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। विचार एक महत्वपूर्ण शक्तियों में से एक है। जिसका उपयोग करके हम अपने जीवन को जैसा चाहे वैसा रूप दे सकते हैं। हम सबको चयन करने का विकल्प दिया गया है और यह सुंदर विकल्प ईश्वर ने हमें भेंट स्वरूप दिया है। हमें इसका इस्तेमाल सही मार्गदर्शन और सही दिशा में करने की आवश्यकता है। वास्तव में अवसर और समय सबको समान रूप से उपलब्ध हैं। यहां हमारी धारणा काम करती है कि हम इन उपलब्ध अवसरों को अवसर मानते हैं या फिर छोटे काम समझकर अनदेखा कर देते हैं। सही समय और सही दिशा में लगातार किया गया प्रत्येक प्रयास जीवन में बड़ा बदलाव ला सकता हैं। सफलता की राह में संतुलन बनाना बहुत आवश्यक है क्योंकि इस राह में गिरने (असफल होने की) संभावना बहुत अधिक होती हैं। 

इसे भी देखें:-

Learn English with esay way

https://youtube.com/channel/UC83ocu-n-AT2z-wG-iucEbQ

इसे भी  पढ़ें :-

सहयोग से ही हम जीवन में सफलता प्राप्त करते हैं।

जिंदगी में खुशियां कहां पाऊं।

मूल्यवान कैसे बनें।

चैम्पियन की तरह व्यवहार करना होगा

हमारे भाव

ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा

समय हाथ से निकल जा रहा है।

उत्साह

जिम्मेदारी

सफलता प्राप्ति में संस्कारों का महत्त्व

असफलताओं को सफलता में बदलने वाले मुख्य तरीके

हमारी संगत है जो हमारे भविष्य का निर्धारण करने में मुख्य भूमिका निभाते हैं।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। कामयाब होने के लिए मानसिक रूप से सबल होना ज्यादा महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमारी सोच समझ है जो हमें किसी काम को करने, या फिर कभी करने या न करने की दिशा निर्देश देती हैं। इसका सबसे महत्वपूर्ण कारण हमारे आस-पास का वातावरण है, हमारी संगत है जो हमारे भविष्य का निर्धारण करने में मुख्य भूमिका निभाते हैं। हमें इस विषय में चिंतन मनन करने की आवश्यकता है। अगर वास्तव में हम अपने जीवन में कुछ महत्वपूर्ण करना चाहते है तो हमें इन बातों पर ध्यान देने और समय रहते समाधान खोजने की जरूरत है। हमें अपने दिमाग में केवल महत्वपूर्ण और जरूरी चीजों को ही डालना चाहिए क्योंकि बाकी सब विचार हमें भटकाने के अलावा और कुछ काम नहीं करते। अच्छा साहित्य पढ़ना, और सफल लोगों की संगत इसका सबसे बेहतरीन तरीका है।

इसे भी  पढ़ें

मानसिक बदलाव ही सफलता का मूलमंत्र है।

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

खुद की मदद कैसे करें।

कोशिश करने से पीछे न हटें।

असंभव कुछ भी नहीं

ऊर्जा का स्तर

सामर्थ्य

आशावादी दृष्टिकोण

समय ही धन है

स्वस्थ जीवन जीने के तरीके।

स्वमान

परिवर्तनों से घबराने की बजाय उनका आदर करना होगा

सीखना ही हमारा आखिरी उद्देश्य होना चाहिए।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। दुनिया में प्रत्येक व्यक्ति ने दुःख को महसूस किया है और उस विषम परिस्थिति से निपटने का अनुभव भी सबको है। इसी तरह सफलता प्राप्ति के मार्ग में बाधाओं को दूर करने की आवश्यकता है। अपने लक्ष्य प्राप्ति हेतु हमेशा कार्यरत रहना होगा। लोगों की चिंता नहीं करनी वो क्या सोचेंगे। लोग तो सवाल करने के लिए ही होते है क्योंकि खुद के विषय में चिंतन करने वाले बहुत कम पाएं जाते हैं। सफलता के लिए प्रयत्नशील रहना ही होगा। बिना कुछ किए ही कामयाबी नहीं मिलने वाली। सीखना ही हमारा आखिरी उद्देश्य होना चाहिए।  अच्छी आदतें  कहीं से भी मिले सीख लेनी होंगी। शिकायतें करना, निंदा करना छोड़ कर ही खुद को विकसित कर सकते हैं।  संघर्ष करने की आदत डालने की आवश्यकता है। हमें दूसरों जैसा नहीं बनना।

इसे  भी पढ़ें :-

खुशी हमारे लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

विचार ही सबसे बड़ी पूंजी है।

निवेश कहा करें।

हमारा व्यक्तित्व

चलो एक बार फिर से कोशिश करते हैं।

जीवन के मुख्य गुण क्या हैं?

आनंदमय जीवन

सच्ची खुशी

सरल जीवन

सफल आदतें

हमेशा खुश कैसे रहें

डायमंड्स

अपने आप को हर परिस्थिति में उत्साह से भरपूर रखना होगा।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। बड़ा बदलाव लाने के लिए हमें कुछ महत्वपूर्ण सोचने की आवश्यकता है। एक सफल व्यक्ति हमेशा खुद को आगे बढ़ाने के विषय में चिंतन करता है। सामान्यतः हम सब यही पर चूक कर रहे है कई बार हम अपने आप को पीछे धकेलने का काम करते है और हमें अहसास तक नहीं होता। और हमें जब पता चलता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती हैं ‌। इसके लिए हमें निरंतर खुद का आंकलन करते रहने की आवश्यकता है। खुद का आत्मविश्लेषण करके हम अपनी कमियों और काबिलियत के बारे में जान सकते हैं। और अपने जीवन को एक शानदार दिशा प्रदान कर सकते हैं। अपने आप को हर परिस्थिति में उत्साह से भरपूर रखना होगा।

मोटिवेशनल बुक्स पढ़ने की आदत विकसित करने की जरूरत है। इस तरह हम खुद के पक्ष में काम कर पाएंगे। 

इसे भी  पढ़ें:

जीवन जीने के अनूठे तरीके।

धैर्य रूपी अद्भुत क्षमता को कैसे विकसित करें

स्वस्थ मन

पहला कदम

महत्वकांक्षा

कृतज्ञता

अपने आत्मविश्वास कौशल पर विश्वास 

सही दिशा

 विकल्प हमारे पास ही है।

प्रार्थना की शक्ति

समय ही धन है 

अपनी शब्दावली में सुधार करके हम विकास की ओर कदम बढ़ा सकते हैं।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। हमेशा सकारात्मक विचारों के साथ आगे बढ़ना ही सबसे महत्वपूर्ण हैं। आत्मनिरिक्षण अत्यंत आवश्यक हैं क्योंकि एक यही मार्ग जिसके द्वारा हम खुद की परीक्षा ले सकते हैं, खुद की जांच कर सकते है कि हम सफलता के मार्ग में कहा पर है। परिवर्तन संसार का नियम है इसके साथ ही हमें अपने आप में बदलाव लाना होगा। अपनी क्षमताओं में वृद्धि करके, अपनी शब्दावली में सुधार करके हम विकास की ओर कदम बढ़ा सकते हैं। दूसरों की अपेक्षा स्वयं से प्रतियोगिता हमेशा लाभकारी होती हैं। हालांकि, हर व्यक्ति को आगे बढ़ने का अवसर मिलता है। और इन अवसरों को हम आलस्य में व्यर्थ गंवा देते हैं। वास्तव में परिवर्तन हमें अपग्रेड करने के लिए होते हैं। इसके लिए निरंतर प्रयास करते रहना होगा और विकास करने का प्रयास करना होगा।

इसे भी पढ़ें:-

निंरतर प्रयास से बेहतर कैसे बनें।

आदतों में सुधार।

स्वीकार करना सीखना होगा।

असंभव कुछ भी नहीं।

उत्साह और सकारात्मक विचारों वाले लोगों से ही मेल-जोल रखने की जरूरत है।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। दूसरों को बदलने का विचार त्याग कर खुद को मोटिवेट और विकसित करने की दिशा में कार्य करना होगा। सफलता हेतु पूरे समर्पण भाव से कार्य करना सबसे बेहतरीन उपाय है। हमें  उत्साह और सकारात्मक विचारों वाले लोगों से ही मेल-जोल रखने की जरूरत है। क्योंकी जैसी होगी संगत वैसी होगी रंगत, और जैसा होना आचार वैसा होगा व्यवहार। वास्तव में हम एक दूसरे से परस्पर जुड़े हुए हैं। इसी लिए हम दूसरों की सफलताओं और असफलताओं से बहुत ज्यादा प्रभावित होते हैं। परंतु आधुनिकता में हम इतने व्यस्त हो गए हैं कि इन बातों पर ध्यान ही नहीं देते। हमारे  हाव भाव और बात करने के लहज़े से हमारे व्यक्तित्व का पता चलता है।  कामयाब लोगों के जैसा आचरण और व्यवहार करना होगा। 

अपने लक्ष्य को हर हाल में याद रखते हुए जुटे रहना ही सफलता प्राप्ति का मार्ग हैं।

विचारों से ही हम अच्छी और बुरी दोनों तरह की जीवनशैली को अपना सकते हैं। हमारे व्यवहार और आचरण में हमारे लक्ष्य की झलक दिखाई देना ही सही दिशा की पहचान है। अपने लक्ष्य को हर हाल में याद रखते हुए जुटे रहना ही सफलता प्राप्ति का मार्ग हैं। हम जो करना चाहते है उसके विषय में लगातार चिंतन और उचित प्रयास ही लक्ष्य तक पहुंचने में हमारी सहायता कर सकता है।  नाकामयाबी तो एक अवसर के समान है जो हमें और अधिक सुधार करके फिर से कोशिश करने के लिए अग्रसर करती हैं। सफलता के लिए हमें बार-बार हारना होगा क्योंकि यह कोई नहीं जानता कि सफलता किस मोड़ पर खड़ी हैं। यह किए गए निरंतर कोशिशों और बाधाओं का सामना करने की हमारी योग्यताओं पर निर्भर करता है। हार कर जीतने का आनन्द ही सबसे अलग है।